Latest News

‘रमन के गोठ’ पर सम्पूर्ण प्रदेश में उत्साहवर्धक प्रतिक्रिया
 Posted on 13/12/2015
 

रायपुर, 13 दिसम्बर 2015

राज्य में स्थित आकाशवाणी के सभी केन्द्रों से आज प्रसारित मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की मासिक रेडियो वार्ता ’रमन के गोठ’ को सुनकर सभी जिलों में नागरिकों ने अपनी उत्साहवर्धक प्रतिक्रिया व्यक्त की है।

  • बेमेतरा - के मोहभट्ठा वार्ड नं. 06 में “रमन के गोठ” कार्यक्रम को सुनने के बाद श्री विजय सिन्हा, श्री शिव साहू, श्री रामानंद त्रिपाठी और श्री गौरव साहू ने कहा कि किसी प्रदेश के मुखिया द्वारा प्रदेश की संस्कृति और शासन की योजनाओं को जनता तक पहुंचाने का यह बढ़िया कार्यक्रम है। कार्यक्रम में विभागों के रूचिकर विषयों का समावेश प्रदेश के अन्य लोगों के लिए प्रेरणादायी है।
  • राजनांदगांव - जिले के छुईखदान विकासखंड के ग्राम बंजारपुर निवासी ईतवारी बैगा का कहना है कि आदिवासी बैगाओं के लिए नयी योजनाओं के बारे में पता चला। इससे हमारे क्षेत्र में सुविधाएं बढ़ेगी एवं बैगा आदिवासियों के जीवन स्तर में सुधार होगा। बंजारपुर निवासी सोनऊ बैगा का कहना है कि वनांचल में रहने वाले विशेष पिछड़ी जनजाति के लोगों की आवश्यकता को देखते हुए रेडियो, कंबल एवं छाता देने की योजना उपयोगी साबित होगी। बंजारपुर के ही अलटूराम मरार ने रमन के गोठ कार्यक्रम को खूब सराहा। उन्होने बताया कि इस कार्यक्रम से मिट्टी परीक्षण, बीजोपचार एवं किसानों के लिए योजनाओं की जानकारी मिली।
  • बलौदाबाजार-भाटापारा - जिले के कसडोल छात्रावास की छात्राओं ने कहा कि आदिवासी किसान द्वारा सड़क बनाने के लिये अपने जमीन को दान में दिया है यह गर्व की बात है। सभी छात्राओं ने आदिवासियों के उत्थान के लिये चलायी जा रही योजनाओं के लिये डॉ रमन सिंह के प्रति आभार व्यक्त किया। जिले के गणमान्य नागरिक एवं साहित्यकार श्री एस. पी. पाण्डेय एवं श्री रामाधार पटेल ने मुख्यमंत्री द्वारा किसानों के लिये मिट्टी के स्वास्थ्य परीक्षण का कार्य कराये जाने को किसानों के हित में बताया। बलौदाबाजार के श्रमिक सर्वश्री यू.के मिश्रा, रामू राम साहू, संदीप पाण्डेय, टेकराम साहू आदि ने श्रमिकों के पंजीयन को कराना सराहनीय कदम बताया।  
  • रायपुर - जिला मुख्यालय में कलेक्टोरेट परिसर के सामने स्थित उद्यान में रमन के गोठ कार्यक्रम को सुनकर रायपुर निवासी देवेन्द्र ने रमन के गोठ सुनकर कहा कि प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना एवं अटल पेंशन योजना से हमारे जैसे निम्न आय वर्ग के लोगों का जीवन सुरक्षित हुआ है।
  • गरियाबंद - विकासखण्ड के ग्राम पंचायत नहरगॉव के श्री अधीन राम ध्रुव ने कहा कि रमन के गोठ कार्यक्रम में मिट्टी परीक्षण और प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना का जिक्र महत्वपूर्ण है।
  • महासमुंद - जिले के ग्राम बासकांटा के किसान श्री शिवपाल साहू, बसंत एवं मेहत्तर साहू ने मुख्यमंत्री द्वारा प्रदेश में आठ मिट्टी परीक्षण प्रयोग शाला खोलने के निर्णय को किसानों के हित में बताया।    
  • दुर्ग - जिले के श्रमिक बस्ती डुण्डेरा के निरंजन जैन का कहना है कि राज्य सरकार द्वारा श्रमिकों के हित में चलाए जा रहे विभिन्न योजनाओं का लाभ हम श्रमिकों को मिल रहा है। अब हमारे प्रतिभाशाली बच्चे पैसों की कमी के कारण अपनी पढ़ाई बीच में नहीं छोड़ते हैं। निरंजन जैन का कहना है कि वर्तमान में श्रमिकों को दी जाने वाली सुविधाओं की राशि उनके खाते में ऑन-लाईन के माध्यम से जमा कर दी जाती है।  
  •  बालोद - नगर के साहित्यकार श्री अरमान अश्क ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने प्रदेशभर के बुजुर्गों से यह कहकर दिल जीत लिया कि मैं भी आपके बेटे की तरह हूॅ, इसलिए अपने बुजुर्गों को मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा योजना के अन्तर्गत तीर्थयात्रा करा रहा हूॅ।
  •  बालोद - जिले के ही साहित्यकार श्री संतोष कृदत्त ने कहा कि प्रदेश के मुखिया डॉ. रमन सिंह ने रेडियो कार्यक्रम के माध्यम से ‘‘मिट्टी स्वास्थ्य कार्ड‘‘ योजना की जानकारी दी है। इससे निश्चित ही किसान अब अपने खेतों की मिट्टी का परीक्षण कराकर उन्नत खेती कर लाभान्वित होंगे। यहीं के नागरिक श्री विनोद जैन ने कहा कि मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने किसानों की पीड़ा कम करने के लिए आर.बी.सी.6-4 के प्रावधानों के तहत् तत्काल किसानों को राहत राशि वितरण की बात कही। इससे निश्चित ही प्रदेश के सूखा प्रभावित किसान लाभान्वित हांेगे।
  • जांजगीर-चांपा-नगर के युवा व्यवसायी श्री शैलेष साहू ने कहा कि मुख्यमंत्री ने एक आम आदमी की भावनाओं को समझते हुए सरल व सहज शब्दों में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा देश में लागू की गई मिट्टी स्वास्थ्य कार्ड योजना के बारे में विस्तार से बताया। यह जानकारी किसानों के लिए फायदेमंद और उपयोगी है। नगर पालिका परिषद के उपाध्यक्ष श्री आशुतोष गोस्वामी ने जैविक खेती के प्रोत्साहन के लिए मुख्यमंत्री का आभार माना। श्री हितेष यादव और श्री पवन कहरा ने प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना और अटल पेंशन योजना को लाभकारी बताया।
  • मुंगेली - मुंगेली के बोकराकछार-बांकल के विशेष पिछड़ी जनजाति बैगा सर्वश्री चैनसाय इतवारी, गुलाब सिंह, बैगिन कुवरिया, रतिन, मुन्नी, फुलबाई और गांव के सरपंच नर्मदा प्रसाद ने कहा कि हम चौथी बार रमन के गोठ को सुन रहे हैं। आज हमारे लिए मुख्यमंत्री ने बहुत अच्छी जानकारी दी।
  •  कोरबा - संसदीय सचिव श्री लखन देवांगन ने कटघोरा विकासखण्ड के ग्राम छुरी में ग्रामीणों के साथ रमन के गोठ को सुना। जिला पंचायत अध्यक्ष श्री देवी सिंह टेकाम ने पाली में रमन के गोठ को सुना। कोरबा के साहित्यकार श्री माणिक विश्वकर्मा ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि शासन की योजना जानकारी प्राप्त होने के साथ प्रदेश के तात्कालिक और सार्वजनिक महत्व के विषयों पर मुख्यमंत्री की बातों को सुनने से उनकी संवेदनशीलता का पता चलता है।
  • उत्तर-बस्तर (कांकेर) - जिले के सिंगारभाठ कन्या आश्रम की शिक्षिका उर्मिला सिंह कावड़े ने चौथे प्रसारण को सुनकर किसानों, श्रमिकों और विशेष पिछड़ी जनजातियों की योजनाओं को इन वर्गों के लिए लाभकारी बताया। यहां की छात्राओं ने भी इसे पूरी तनमयता से सुना और जनजाति कल्याण के लिए संचालित योजनाओं की सराहना की।
  • नारायणपुर - मुडापाल के श्री मंगलसाय वड्डे ने कहा कि क्षेत्र की जनता की सुविधा के लिए मैंने अपने कृषि भूमि सड़क बनाने के लिए दान दी। मुख्यमंत्री ने मेरे नाम का जिक्र किया, उसके लिए मैं आभारी हूं। फरसगांव के सरपंच श्रीमती रामेश्वरी गोस्वामी हालीमुंजमेटा के सरपंच श्री चुछाय सोरी ने कहा कि मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह किसानों को राहत पहुंचाने और श्रमिकों के भलाई के प्रति संवेदनशील है। उनकी प्रतिबद्धता विशेष पिछड़ी जनजातियों के लिए परिलक्षित होती है। ग्रामीणों ने अबूझमाड़िया परिवारों को विकास की मुख्यधारा से जोड़ने ग्यारह सूत्रीय कार्यक्रम को अभियान के तौर पर संचालित करने की सराहना की है। ओरछा, बेनूर, एड़का, छोटेडोंगर, धौड़ाई, देवगांव, बिंजली, बाकुलवाही आदि ग्रामों के पंचायत पदाधिकारियों और ग्रामीणों ने रमन के गोठ को उत्साहपूर्वक सुना।
  •  धमतरी - नगर पालिका धमतरी की महापौर श्रीमती अर्चना चौबे, जिला पंचायत अध्यक्ष श्री रघुनंदन साहू ने रमन के गोठ को सुनकर कहा कि किसानों के लिए मृदा परीक्षण और जैविक खेती की बात की गई है। मुख्यमंत्री ने किसानों के दर्द को महसूस किया है। वे प्रदेश के किसानों को निराश नहीं होने देंगे। नगर पंचायत कुरूद के अध्यक्ष श्री रविकांत चंद्राकर ने कहा कि मुख्यमंत्री की संवदेनशीलता से विशेष पिछड़ी जनजातियों का सर्वांगीण विकास होगा।
  •  अम्बिकापुर-सरगुजावासियों ने कहा कि पहाड़ी कोरवा, बिरहोर, अबूझमाड़िया, पंडो, भुजिया, बैगा, कमार के समयबद्ध विकास के लिए ग्यारह सूत्रीय अभियान से इन विशेष पिछड़ी जनजाति विकास की मुख्यधारा से जुड़ जाएंगे। लुण्ड्रा विकासखण्ड के पहाड़ी कोरवा आश्रम के विद्यार्थियों ने रमन के गोठ को सुनकर इसकी सराहना की।
  • रायगढ़ - पुसौर विकासखण्ड के ग्राम मिडमिडा में आयोजित रमन के गोठ कार्यक्रम में सरपंच श्रीमती सावित्री गुप्ता और अनेक ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री द्वारा दी गई जानकारी को विकासपरक बताया। इसी गांव की पद्मा, मादरी, वृंदावती आदि ने कहा कि राज्य में सूखे की स्थिति को देखते हुए आर.बी.सी. की धारा के प्रावधानों के तहत किसानों को राहत राशि वितरण करने की घोषणा किसानों के लिए राहत भरी खबर है। इसी प्रकार सर्वश्री इतवारी, सहोदा, सुकेशा, भीमसेन, भगवतिया आदि ने प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना की सराहना करते हुए अटल पेंशन योजना को बुढ़ापे के लिए सहारा बताया।

क्रमांक-4425/सुनीता