News Details

मुख्यमंत्री अब स्कूली बच्चों के ‘बड़े पापा’ : डॉ. रमन सिंह पहुंचे राजधानी के प्रयास आवासीय विद्यालय

12/02/2017

रायपुर 12 फरवरी 2017

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह आज सवेरे राजधानी रायपुर के गुढ़ियारी में राज्य शासन द्वारा संचालित प्रयास आवासीय विद्यालय पहुंचे, जहां उन्होंने बारहवीं कक्षा की बालिकाओं को बोर्ड परीक्षा की तैयारी के लिए मार्गदर्शन दिया। मुख्यमंत्री के साथ उनकी धर्मपत्नी श्रीमती वीणा सिंह भी वहां पहुंची। बालिकाओं ने मुख्यमंत्री को बड़ी आत्मीयता से ‘बड़े पापा’ और श्रीमती वीणा सिंह को ‘बड़ी मम्मी’ कहकर सम्बोधित किया।  उल्लेखनीय है कि प्रयास आवासीय विद्यालय का संचालन राज्य सरकार के आदिम जाति और अनुसूचित जाति विकास विभाग द्वारा मुख्यमंत्री बाल भविष्य सुरक्षा योजना के तहत किया जा रहा है। नक्सल हिंसा पीड़ित जिलों के ग्यारहवीं और बारहवीं कक्षा के बच्चों के लिए राजधानी और संभागीय मुख्यालय रायपुर में इस निःशुल्क आवासीय विद्यालय की स्थापना मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के हाथों वर्ष 2010 में की गई थी। प्रारंभ में विद्यालय में केवल बालकों के लिए आवासीय व्यवस्था थी, जबकि वर्ष 2012 से परिसर में बालिकाओं के लिए भी अलग से आवास व्यवस्था की गई है। बालक-बालिकाओं को यहां पर मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश के लिए आयोजित होने वाली प्रतियोगी परीक्षाओं (पीएमटी और पीईटी) और संयुक्त इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा (जे.ई.ई.) की कोचिंग निःशुल्क दी जा रही है। मुख्यमंत्री के निर्देशों के अनुरूप आदिम जाति और अनुसूचित जाति विकास विभाग द्वारा अब राज्य के चार अन्य संभागीय मुख्यालयों - अम्बिकापुर, जगदलपुर, दुर्ग और बिलासपुर में भी प्रयास आवासीय विद्यालय शुरू कर दिए गए हैं। इस प्रकार प्रदेश के सभी पांच संभागीय मुख्यालयों में प्रयास आवासीय विद्यालय संचालित हो रहे हैं। राज्य के प्रयास आवासीय विद्यालयों से बीते साल 27 बच्चों ने संयुक्त इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा में सफलता हासिल की, जिनका चयन भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आई.आई.टी.) में हुआ। 


क्रमांक-5576/स्वराज्य