logo-dark

Latest News

लोक सुराज अभियान : मुख्यमंत्री के निर्देश पर त्वरित अमल: एक घंटे के भीतर जनपद सीईओ का निलंबन आदेश जारी

मनरेगा की मजदूरी भुगतान नहीं करने एवं विकास कार्यों में लापरवाही बरतने पर हुई कार्रवाई

मुख्यमंत्री ने लंबित मजदूरी का भुगतान तीन दिन में करने के दिए निर्देश  

आम पेड़ की छाया में लगी चौपाल : ग्रामीणों ने 6 माह में खुले में शौच मुक्त ग्राम बनाने का लिया संकल्प

केशला में नल-जल योजना, सी-सी रोड, मुक्तिधाम, खेल मैदान, हेण्डपंप की दी स्वीकृति

रायपुर, 14 मई 2017

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने लोक सुराज अभियान के तहत आज रायपुर जिले के ग्राम केशला (आरंग विकासखंड) के आकस्मिक भ्रमण के दौरान वहां मनरेगा का मजदूरी भुगतान नहीं होने की शिकायत मिलने पर जनपद पंचायत आरंग के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री नेहरूल माहेश्वरी को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री के निर्देश पर त्वरित अमल करते हुए एक घंटे के भीतर मंत्रालय (महानदी भवन) से श्री माहेश्वरी का निलंबन आदेश जारी कर दिया गया। निलंबन की कार्रवाई पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग द्वारा की गई। मुख्यमंत्री ने कहा कि विकास कार्यों में लापरवाही बिल्कुल बर्दाश्त नहीं की जाएगी। गड़बड़ी करने वाले अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। मुख्यमंत्री ने तीन दिन के भीतर मजदूरों को उनकी मजदूरी का भुगतान करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। 
मुख्यमंत्री ने ग्राम केशला में आम के पेड़ की छांव में ग्रामीणों के बीच चौपाल लगाई। मुख्यमंत्री के गांव आने की खबर से उत्साहित बड़ी संख्या में ग्रामीण चौपाल पहुंचे। मुख्यमंत्री ने ग्रामीणों के साथ गांव की महिलाओं और बच्चों से बातचीत की। उन्होंने ग्राम वासियों से शौचालय निर्माण और शौचालय के उपयोग की जानकारी ली और ग्राम पंचायत केसला को 06 महीने के भीतर खुले में शौच मुक्त कराने का संकल्प दिलाया। मुख्यमंत्री ने कहा-मैं और मेरे अधिकारी लोक सुराज अभियान के तहत आप लोगों से बातचीत करने और समस्याओं के त्वरित निराकरण के लिए आए हैं। उन्हांेने ग्रामीणों से चर्चा के दौरान राशन दुकानों से खाद्य सामग्री के वितरण, मनरेगा की मजदूरी भुगतान के साथ ही अन्य विकास कार्यो की जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने ग्रामीणों की मांग पर ग्राम केशला को अनेक सौगात दी। उन्होंने केशला में पेयजल की प्रमुख समस्याओं को दूर करते हुए नल-जल योजना की स्वीकृति प्रदान की। इसके साथ ही गांव के सतनामी पारा और यादव पारा में पांच-पांच लाख रूपए की लागत से मंगल भवन, दो वार्डो में पांच-पांच लाख रूपए की लागत से सीसी रोड, आंगनबाड़ी के अधूरे भवन को पूर्ण कराने के निर्देश भी मौके पर दिए। साथ ही ग्राम केशला में मुक्तिधाम के लिए 5 लाख रूपए की स्वीकृति भी दी।
 डॉ. सिंह ने ग्राम केशला में बच्चों व युवाओं के लिए 10 लाख रूपए की लागत से खेल मैदान बनाने की भी घोषणा की। ग्रामीणों द्वारा बार-बार पावरकट की समस्या बताने पर उन्होंने ग्राम केशला में अतिरिक्त ट्रांसफार्मर लगाने और विद्युत लाईन के विस्तार के लिए सर्वे कराने के निर्देश दिए। साथ ही सतनामी पारा में ग्रामीणों की मांग पर पेयजल के लिए एक बोर कराने की स्वीकृति दी। इसी चौपाल में ग्राम अमोदी के ग्रामीण भी शामिल हुए। उनसे चर्चा के दौरान उनकी मांग पर अमोदी के मिडिल स्कूल में अहाता निर्माण और मंगल भवन के लिए 10 लाख रूपए की मंजूरी दी।
मुख्यमंत्री ने ग्रामीणों से उज्जवला योजना की जानकारी लेते हुए कहा कि इस वर्ष इस गांव में 100 गैस कनेक्शन स्वीकृत किए गए हैं। इसी तरह अगले वर्ष भी अन्य हितग्राहियों को गैस कनेक्शन दिए जाएंगे। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत इस ग्राम में 14 हितग्राहियों को आवास मिलेंगे और अगले वर्ष भी अन्य पात्र हितग्राहियों को आवास दिए जाएंगे। इस अवसर पर मुख्य सचिव श्री विवेक ढांड, मुख्यमंत्री के संयुक्त सचिव श्री रजत कुमार, कलेक्टर श्री ओ.पी. चौधरी, पुलिस अधीक्षक डॉ. संजीव शुक्ला, सरपंच श्रीमती सोनिया साहू सहित बड़ी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित थे।  

क्रमांक-722/पवन